Breaking News

इस पूर्व विधायक हत्याकांड का मुकरा चश्मदीद गवाह निकला हत्यारा !

0 comments, 2017-09-21, 542 views

गाजीपुर ब्यूरो। एक शर्मसार करने वाली घटना फिर सामने आई है भांवरकोल भाजपा के पूर्व विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड का मुकरा चश्मदीद गवाह अंजनी राय बीती रात उसने अपने बाप राजनारायण राय(72) और भाई विनय राय (26) की गोली मार कर हत्या कर दी। उसके बाद वह मौके से फरार हो गया। स्थानीय लोगों का कहना है कि अंजनी शराब के नशे में अपने घर पहुंचा। किसी बात को लेकर अपने बाप और भाई से झगड़ा किया। उसके बाद वह पिस्तौल निकाल कर गोली मार दिया। गोली लगने से दोनो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने दोनो को आनन फानन में लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस कप्तान सोमेन वर्मा मौके पर पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारीयां लिए। जब इस घटना पर उनसे बात किया गया तो उन्होंने बताया कि यह स्पष्ट नहीं है कि घटना में लाइसेंसी कि अवैध असलहे का इस्तेमाल हुआ है। वजह अंजनी के नाम पर दो नाली बंदूक का लाइसेंस जारी है। यह हकीकत पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही सामने आएगी वही जब एसपी सिटी प्रदीप कुमार दूबे बात किया गया तो उन्होंने बताया कि राजनारायण राय को सीने के दाहिने हिस्से में गोली आर-पार हो गई जबकि विनय के सीने में सीधे गोली लगी है। हालांकि घटना का खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही होगा। आपको बता दें कि अंजनी राय भाजपा के पूर्व विधायक कृष्णानंद का बेहद करीबी था। यहां तक कि उसके नाम पर ही कृष्णानंद ने पैरवी कर उसके नाम बंदूक का लाइसेंस जारी करवाया था। 29 नवंबर 2005 को कृष्णानंद की बसनियां चट्टी के पास हत्या कर दी गई थी। उस मामले में अंजनी चश्मदीद गवाह था लेकिन सीबीआई कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान अन्य गवाहों में सबसे पहले वही अपने कथन से मुकरा था। कृष्णानंद के करीबियों की मानी जाए तो गवाही से पक्षद्रोह के बाद अंजनी के रहन-सहन में भी बदलाव आ गया था। इस दर्दनाक घटना से पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

UPPatrika
UPPatrika Team

और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X