Breaking News

अमित शाह के मंच पर उठी मांंग , मंत्री -डीएम बोले चुप हो जाओ

0 comments, 2017-10-11, 138 views

शिवकेश शुक्ला:अमेठी. मोदी-शाह के गढ़ गुजरात में जाकर कांग्रेस के शहज़ादे ने बीते दिन बीजेपी द्वारा कराए गए विकास का हिसाब मांगा था। मंगलवार को कांग्रेस के गढ़ में इसका हिसाब चुकता करते हुए बीजेपी के नेशनल प्रेसिडेंट अमित शाह ने करारा जवाब देकर केंद्र की 106 योजनाओं की लिस्ट दिखा कर वाह-वाही लूटनी चाही। लेकिन उनके इस सच को सही आईना तो आंगनबाडियों के हुजूम ने दिखा दिया। आंगनबाडियों के हुजूम ने योगी सरकार के खिलाफ आवाज़ बुलंद कर बीजेपी नेताओं के दावों पर जहां एक ओर बट्टा लगा दिया तो वहीं दूसरी ओर योगी के मंत्री और डीएम ने उन्हें चुप कराने के लिए घुड़की लगाई। *कौहार में इस तरह शाह की रैली में फैला भंग* कौहार में बीजेपी के सजे मंच पर जहां एक ओर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कभी राहुल गांधी को शहज़ादा तो कभी किसानों की ज़मीन कब्जा करने वाला और कभी ये दावा किया कि अमेठी में नेहरु-गांधी परिवार ने नहीं मोदी सरकार ने विकास की बयार बहाई। इस पर लोगों ने कहकहा भी लगाया और तालियां भी पीटी। लेकिन उस समय श्री शाह के विकास के दावे खोखले नज़र आनें लगे जब उनके मंच से क़रीब 40 मीटर दूर बाईं तरफ खड़ी सैकड़ों आंगनबाडियों ने अपनी मांगों को पूरा कराने के लिए हैंडबिल हाथों में उठा लिया। *बीजेपी के वालेन्टियरों के धमकाने पर भी नहीं रुकी आंगनबाडी* इसे तस्वीर को देख कर वहां तैनात बीजेपी के वालेन्टियरों ने आंगनबाडियों को धमकाना और डराना शुरु कर दिया। तब तक पुलिस भी उधर आ धमकी उसने भी इन्हें इस हरकत से मना किया। बस इसके बाद तो पहले से भरी बैठी आंगनबाडियों का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया। फिर क्या था एक ओर अमित शाह का भाषण चल रहा था और दूसरी ओर आंगनबाडियों के नारे। *प्रदर्शन देख मंच पर रुके नहीं शाह, 2 मिनट में ख़त्म किया भाषण* वैसे राजनीति के मास्टर माइंड बीजेपी अध्यक्ष श्री शाह ने इस विरोध को तुरंत भांपा और फिर इस शुरु हुए विरोध के 2 मिनट के बाद अपनी वाणी को विराम दिया। यही नहीं श्री शाह इसके बाद मंच पर टिके भी नहीं फौरन चलने के लिए रवाना हो गए। हैरान करने वाली बात ये के उनके पीछे सीएम योगी, मंत्री की फौज सब चल पड़े। जबकि ये सभी काफिला रोक कर लोगों की मदद की तस्वीरें खिंचाने के आदी हैं लेकिन आज इन आंगनबाडियों के पास कोई नही आया। *15 मिनट तक नारेबाजी करती रहीं आंगनबाडी* उधर ये सभी हेलिपैड और गाडियों पर जगह लेने के लिए गए तब इधर राज्यमंत्री सुरेश पासी और डीएम योगेश कुमार इनके पास पहुंचे। बडो की अनदेखी के बाद मंत्री और डीएम को पाकर आंगनबाडी बिफर गई। उन्होंने सरकार के विरुद्ध नारे लगाने शुरु कर दिए। 'हमारी मांगे पूरी हो, चाहे जो मजबूरी हो'। योगी तेरी तानाशाही नही चलेगी-नहीं चलेगी। इस तरीके के नारे क़रीब 15 मिनट तक लगे। आंगनबाडियों का कहना था कि सरकार में आने से पूर्व सीएम योगी ने उनकी मांग पूरी करने की बात कही थी। *समिति के निर्णय के बाद होगा फैसला* फिलहाल इस मामले पर अमेठी के डीएम योगेश कुमार का कहना था कि सरकार ने इसके लिए एक राज्य स्तरीय समिति बना दी है, उसके निर्णय आने के बाद ही फैसला हो पाएगा। उन्होंने कहा कि आंगनबाडियों के समस्त पत्रों को सरकार को भेजा जा चुका है फिर भी ये मानने को तैयार नहीं हैं।

UPPatrika
शिवकेश शुक्ला
संवाददाता
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X