Breaking News

यूपी कोका से आम आदमी भी हो सकता है परेशान , सदन में जमकर हुई नोकझोक

0 comments, 2017-12-21, 948 views

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश में चल रहे मौजूदा विधानसभा सत्र के दौरान गुरूवार को उप्र संगठित अपराध नियंत्रण एक्ट (यूपीकोका) पर सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच जमकर बहस हुई। बहस की श्ुारूआत मुख्ममंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उन्होंने कहा कि उप्र में किसी के साथ द्वेष की भावना से इस एक्ट के तहत कार्रवाई नही होगी। हालांकि पूरा विपक्ष उनके इस आश्वासन के बावजूद इस एक्ट का जमकर विरोध किया और एक स्वर से इसे लोकतंत्र एवं जनता विरोधी करार दिया। 
उत्तर प्रदेश विधानसभा में गुरूवार को विधानसभा कार्यवाही के दौरान यूपीकोका पर चर्चा हुई। चर्चा की शुरूआत करते हुये योगी ने कहा कि यूपीकोका में किसी प्रकार के द्वेष की भावना से कार्रवाई नहीं की जाएगी. उन्होंने कहा कि प्रदेश में सुरक्षा की भावना हो, निवेश लाने के लिए यूपीकोका जरूरी है. अवैध तरीकों से धन कमाने वालों के लिए यूपीकोका लाया जा रहा हैयोगी ने कहा कि अपराधमुक्त प्रदेश बनाना हमारी प्राथमिकता है. पिछले 9 महीनों में महसूस हुआ कि संगठित अपराध के लिए कानून जरूरी है। पिछले कुछ सालों में यूपी की राजनीति का अवमूल्यन हुआ है। आम लोगों का विश्वास सरकारों ने तोड़ा है।उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था को लेकर देश में प्रदेश की छवि खराब हुई है। खराब कानून व्यवस्था के चलते कोई प्रदेश में निवेश नहीं करना चाहता है। यही कारण है कि प्रति व्यक्ति आय देश की तुलना में काफी कम है।
योगी ने कहा, ‘‘हमारी सरकार के कार्यकाल में सावन मेला, कावंड़, मुहर्रम, बारावफात, दीपावली शांतिपूर्ण ढंग से मनाई गईं. कुछ छिटपुट घटनाएं हुईं. नगर निकाय चुनाव शांतिपूर्वक सम्पन्न हुआ।‘‘
उन्होंने कहा कि आम आदमी शांति, विकास चाहता है. सरकार से सुरक्षा चाहता है। हमने इस मुकाम की खामियों को दूर किया है। पुलिस अधिकारी फुट पेट्रोलिंग कर रहे हैं।योगी ने कहा कि 1.26 लाख शरारती तत्वों को गिरफ्तार किया यगा है। कई मामलों में शरारत और साजिश नजर आई। पुलिस पर हमले हुए। किसी माफिया, अपराधी को सरेआम गोली चलाने की छूट नहीं दे सकते। 800 मुठभेड़ हुई, 114 पर एनएसए, 139 पर गैंगस्टर लगा. करोड़ों की संपत्ति सीज हुई। 25 दुर्दांत अपराधी मुठभेड़ में मारे गए।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निवेश के लिए लोग लालायित हैं। सुरक्षा की भावना से निवेश बढ़ेगा। 2016 की तुलना में अपराध कम हुआ है। हमने अपराध को और कम करने के लिए एसपी ऑफिस में एफआईआर काउंटर खोला। योगी 2700 अपराधियों ने सरेंडर किया. जमानत कटवा कर जेल गये। मुख्यमंत्री ने कहा कि चित्रकूट मंडल में डकैतों के खिलाफ अच्छी कार्रवाई की गई। पुलिस में मैन पावर की कमी को देखते हुए हमने सुप्रीम कोर्ट की अनुमति से भर्ती शुरू की है. पुलिस भर्ती प्रक्रिया चल रही है।उन्होंने कहा कि प्रदेश में सुरक्षा की भावना हो, निवेश लाने के लिए यूपीकोका जरूरी है। अवैध तरीकों से धन कमाने वालों के लिए यूपीकोका लाया जा रहा है। सीएम ने कहा कि यूपीकोका पर चर्चा कर सदन इसे पास करे।इसी पर सर्कार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह का क्या कहना है जरा गौर फरमाइयेगा। 

UPPatrika
विजय त्रिपाठी
स्वत्रन्त्र पत्रकार
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X