Breaking News

एनएचएम भर्ती में हुई गड़बड़ी पर योगी सरकार का कड़ा एक्‍शन , मामले में महाप्रबंधक को किया सस्पेंड

0 comments, 2017-12-27, 720 views

राष्ट्रीय स्वास्‍थ्य मिशन (एनएचएम) भर्ती में हुई गड़बड़ी पर योगी सरकार ने कड़ा एक्‍शन लिया है। मामले में महाप्रबंधक को जिम्मेदार मानते हुए उन्हें सस्पेंड पर दिया गया है। दरअसल, 4688 भर्तियों में भारी गड़बड़ी सामने आई है। इसमें 3 और 8 अंक वाले का तो चयन हो गया,लेकिन 18 और 64 नंबर पाने वाले अभ्यर्थी चयन सूची से बाहर हो गए। अभ्यर्थियों ने इस पर सवाल उठाए तो एनएचएम के अफसरों ने अपना दामन बचाने के लिए कहा कि यह अंतिम चयन सूची नहीं है। नया रिजल्ट 24 घंटे बाद जारी होने की बात कही जा रही है। एनएचएम ने 22 जुलाई को एएनएम, स्टाफ नर्स, लैब टेक्नीशियन, लैब अटेंडेंट व पीआरओ की भर्तियों के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे थे। 5 नवंबर को परीक्षा हुई और 22 दिसंबर को रिजल्ट घोषित हो गया। वही स्वास्थ्य मंत्री ने एच् आर की गलती मंत्री हुए जांच के आदेश दे दिए है। वही उत्तर प्रदेश सरकार ने सीएम योगी आदित्यनाथ समेत बीजेपी के कई बड़े नेताओं के खिलाफ दर्ज करीब 20 हजार केस वापस लेने का फैसला किया है। योगी पर दर्ज करीब 8 केस को वापस लेने का फैसला किया गया है। योगी के अलावा यूनियन मिनिस्टर शिवप्रताप शुक्ल के केस भी वापस लिए जा रहे हैं। गवर्नर राम नाईक ने केस वापस लेने की मंजूरी राज्य सरकार को दे दी है। इस बारे में एक अपील जल्द ही हाईकोर्ट में दायर की जाएगी। नरेश अग्रवाल द्वारा दिए गए विवादित बयान पर स्वास्थ्य मंत्री ने निंदा करते हुए कहा समाजवादी पार्टी आतंकवादियों को छोड़ने की पैरवी भी कर चुकी हैं और आज वो पाकिस्तान के सपोर्ट में खड़े हुए हैं बता दे सपा नेता नरेश अग्रवाल इस मामले में एक बयान देकर विवादों में घिर गए हैं, जो इस तरफ इशारा कर रहा है कि जाधव के साथ पाकिस्‍तान जो भी कर रहा है, वो सही है। साथ ही यह हैरानी भी जताई कि मीडिया सिर्फ जाधव की ही क्‍यों बात कर रही है, जबकि पाकिस्‍तान की जेल में कई और भारतीय भी बंद हैं।नरेश अग्रवाल ने कहा, 'पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को अपने देश में आतंकवादी माना है, तो वह उस हिसाब से व्यवहार करेंगे। हमारे देश में भी आतंकवादियों के साथ ऐसा ही कड़ा व्यवहार करना चाहिए। पाकिस्तान की जेलों में सैकड़ों भारतीय बंद हैं, ऐसे में उनकी भी बात होनी चाहिए, सिर्फ जाधव की नहीं।' नरेश अग्रवाल ने जाधव मामले में राज्‍य सभा के अध्‍यक्ष को एक पत्र भी लिखा है.

UPPatrika
पवन कुमार
संपादक
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X