Breaking News

अगर आपकी मोहब्बत भी एकतरफ़ा है तो ये तरीके अपनाएँ

0 comments, 2016-11-29, 4132 views

दोस्तों अगर हम जिससे मोहब्बत करते हैं वो भी इंसान भी हमसे उतनी ही मोहब्बत करता है, तो शायद ही हमारे लिए इससे बड़ी कोई खुशी हो सकती है। हम अपने पार्टनर के साथ दुनिया की किसी भी ताकत से लड़ सकते हैं ऐसा कॉन्फ़िडेंस हमारे अंदर होता है। लेकिन अगर हमारा प्यार एक तरफा हो तो हमसे बदनसीब ही कोई इंसान होगा। एक तरफा प्यार हमेशा दर्द और रुसवाई के सिवाए कुछ भी नहीं देता। किसी भी व्यक्ति के जीवन में किशोरावस्था और युवावस्था उम्र के दो ऐसे पड़ाव हैं जिनमें हमारा मन बड़ा ही चंचल होता है। हमे कब किसी से मोहब्बत हो जाये, हमे कुछ पता नहीं।
लेकिन यह बात भी सच मोहब्बत में तब ही खुशी मिलती है जब दो मोहब्बत करने वाले एक-दूसरे से बेइंतेहाँ मोहब्बत करते हों। लेकिन अक्सर ऐसा होता है कि अगला इंसान हमारे बारे में क्या सोचता है? ये सोचे बिना उससे दिल लगा बैठते हैं। इस तरह के इकतरफा प्यार ज़िंदगी में केवल दर्द ही देता है। इस प्यार में मिली नाकामी कुछ ही लोग बर्दास्त कर पाते हैं और कुछ लोग अपनी ज़िंदगी तबाह कर लेते हैं।
उम्र का पढ़ाव ही कुछ ऐसा होता है जहां अपने आपको बेहद अकेला पाते हैं। हमें एक ऐसे इंसान की तलाश होती है जिससे हम अपने दिल की सारी बातें शेयर कर सकें। कोई इंसान ऐसा भी हो जो उससे ही प्यार करे। ऐसे में हम दुनिया की इस भीड़ कोई एक ऐसा चहरा नजर आता है जिसे देख हमारे दिल की धड़कने अचानक से तेज हो जाती हैं। हमारे उदास चहरे पर अपने आप मुस्कान लौट आती है। बस दिल की एक ही ख़्वाहिश रह जाती है कि हम उनके और वो हमारे हो जाएँ। दिल बस यही चाहता है कि उनसे जाकर अपनी मोहब्बत का इज़हार करें और सारी उम्र उनके प्यार में गुजार दें। अगर हम अपने प्यार का इज़हार जब तक उनको हमारे प्यार के बारे नहीं बताएँगे तब तक उन्हे हमारे प्यार का पता कैसे चलेगा। ऐसी ही बातें हमेशा हमारे दिमाग में घूमती रहती है।
इसी समय प्यार की दोराहे शुरू होती हैं अगर प्यार के इस मोड पर अगर हाँ होती है। ये एक कामयाब मोहब्बत होती है। लेकिन न है तो ये एक तरफा मोहब्बत बन कर रह जाती है। इस दुनिया में मोहब्बत करना कोई गुनाह नहीं, लेकिन अपने प्यार को दूसरे इंसान पर जबरन थोपना गुनाह है। आप सोच रहे होंगे कि अगर एकतरफा मोहब्बत है तो हम आखिर क्या करें?  
अगर आपको किसी से एक तरफा प्यार है तो इन बातों का ध्यान रखें जिनसे आपको कोई भी तकलीफ नहीं होगी- 

  • हमें अपने अपने आपको दिमागी तौर पर इतना मजबूत बनाना चाहिए कि अगर सामने वाला हमारी मोहब्बत ठुकरा भी दे तो हम खुद को संभाल सकें।
  • मोहब्बत अपनी जगह है और आपकी पढ़ाई और कैरियर अपनी जगह है। इसका बुरा असर अपनी पढ़ाई और कैरियर पर न पड़ने दें।  
  • आप जितनी जल्द उस इंसान भुला दें जिसने आपकी मोहब्बत ठुकराई है आपके लिए उतना ही अच्छा होगा। क्योंकि उसे कोई फर्क नहीं पड़ेगा कि आप खुश हो या गम में हो। वो आपके बिना खुश है अगर आप अपनी मोहब्बत को जबरन उस पर थोपोगे तो शायद आपकी ये हरकत उसकी खुशियाँ छीन ले।
  • अपने आपको अकेला न छोड़ें नहीं तो आप उसके बारे में ही सोचेंगे। खुद को व्यस्त रखें, समय हर जख्म को भर देता है। कुछ समय के बाद आप जिंदगी में नई शुरुआत कर पाएंगे।
  • आप कभी अपना फैसला खुद लीजिये, किसी के बहकावे में आकर एक भी गलत कदम ना उठाएं।
  • उन लोगों के बारे में सोचें जिनकी सारी खुशियाँ आप पर टिकी है। इससे आपके मन में फिर से मुश्किलों का सामना करने की हिम्मत मिलेगी।
  • कभी अपनी मोहब्बत को हासिल करने के लिए हिंसा का सहारा कभी न लें। आपकी ये हरकतें उसके मन में आपके लिए नफरत पैदा कर देगी।
  • आप उस इंसान के प्रति अपने मन में कोई भी गलतफहमी न रखें और न हीं उससे बदला लेने की सोचें। न हीं उसकी जिंदगी बर्बाद करने की कोशिश करें। क्योंकि सच्ची मोहब्बत मतलबी नहीं होती वो तो कुर्बानी देना भी जानती है।
  • प्यार में न सुनने के तुरंत बाद किसी से मोहब्बत के चक्कर में न पड़ें। आप भावुकता में गलत फैसला भी ले सकते हैं। और हो सकता है कि इसके लिए आपको जिंदगी भर पछताना पड़े।
  • कम उम्र में मोहब्बत के चक्कर में न पड़ें क्योंकि कम उम्र का प्यार आकर्षण होता है।
  • आपको अपना मोहब्बत नहीं मिला इसका यह मतलब नहीं है कि जो आपसे मोहब्बत करता हो, आप उसके मोहब्बत को भी नकार दें।
  • असली जिंदगी में फिल्मी तरीके न अपनाएं, क्योंकि फिल्मों की कहानी काल्पनिक होती है जो जिंदगी की वास्तविकता से हमेशा मेल नहीं खाती है।
  • गम दूर के नाम पर कभी नशे का सहारा ना लें।



UPPatrika
गौरव शुक्ल
संवाददाता
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X