Breaking News

अपनी पत्नियों को गैर पुरुषो के साथ रिलेशनशिप बनाने की दे रहे हैं इज़ाज़त

सम्बंधित लोकप्रिय ख़बरें

0 comments, 2016-12-06, 4460 views

भारतीय समाज में एक शादीशुदा महिला का अपने पति के अलावा किसी और पुरुष के साथ संबंध बनाना एक जगन्य अपराध माना जाता है। लेकिन अगर ऐसा हो कि पति खुद अपनी पत्नी को उसके बॉयफ्रेंड के साथ संबंध बनाने के लिए खुद कहे तो। आपको शायद ये बात हैरान करे लेकिन कुछ मर्द अपनी सेक्स लाइफ को बेहतर और रोचक बनाने के लिए खुद अपनी पत्नी को गैर मर्द के पास भेज रहे हैं। बदलते समय के साथ आज पति-पत्नी के रिश्ते में भी बदलाव आ रहा है। अब वह इसे धोखे के तौर पर नहीं बल्कि सेक्स लाइफ के एक मजेदार पहलू और अपने पार्टनर की सेक्सुअल फ्रीडम के तौर पर ले रहे हैं। इसको लेकर मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि इसके पीछे पुरुषों की दबी हुई समलैंगिकतता से लेकर पत्नियों की सेक्सुअल फ्रीडम का सम्मान करने जैसे कारण हो सकते हैं।
आज कल नेटवर्किंग साइट्स पर ऐसा देखने को बहुत मिल रहा है। पिछले 12 सालों में गूगल पर की गई इस तरह की सर्च दोगुना हो चुकी है।
एक शख्स ने बताया कि उसने दो साल पहले शादी की थी और उसने अपनी पत्नी को बताया कि उसकी फैंटसी है कि वह किसी दूसरे आदमी के साथ रिलेशन बनाए। एक शादीशुदा महिला का अनुभव बहुत ही जुदा है। महिला ने बताया कि जब वह एक शख्स को सेड्यूस करने की कोशिश कर रही थी तो उसके पति ने उसका उत्साह बढ़ाने वाले मेसेज भेजे। उसने बताया, मैंने उस रात अपने पति को फोन किया और इस बारे में बताया तो वह न केवल खुश हुए बल्कि वह इस बारे में और ज्यादा जानकारी मांगी।
इसी तरह का एक फोरम है, रैडिट फोरम जहां लोग अपनी पत्नियों की तस्वीरें शेयर कर उनके लुक्स पर दूसरे पुरुषों से कॉमेंट करने के लिए कहते हैं। इनसैटिबल वाइव्स के लेखक डॉक्टर डेविड जे ले बताते हैं, यह एक रोमांचकारी अनुभव होता है क्योंकि आप कुछ ऐसा कर रहे होते हैं जिस पर समाज अपनी त्योरियां चढ़ाता रहा है। वह कहते हैं, यह समझना जरूरी हो जाता है कि जिस चीज को लोग आपत्तिजनक समझा करते थे और एक्सट्रामैरिटल अफेयर को पाप समझा जाता था, अब उसे सकारात्मक तौर पर लिया जा रहा है। अब लोग उसे आपत्तिजनक ना मानकर रोमांचकारी सेक्स लाइफ की तरह लेने लगे हैं।ले बताते हैं, कुछ लोग अपनी पार्टनर को सेक्सुअली ऐक्टिव देख ज्यादा खुशी का अनुभव करते हैं। पुरुषों को लगता है कि जब वह अपनी पत्नियों को शादी के बंधन और प्रतिज्ञाओं से मुक्त होने की स्वतंत्रता दे रहे होते हैं बल्कि खुद इसके लिए प्रेरित कर रहे होते हैं तो वह समाज के बने-बनाए नियमों पर दोहरे तरीके से चोट कर एक बेहतर भूमिका निभा रहे हैं। उन्हें लगता है कि उनकी पत्नी किसी दूसरे के साथ संबंध तो बना रही है लेकिन उनकी इजाजत से। इससे पति-पत्नी के रिश्ते में ज्यादा मजबूती आती है। उनके ऊपर किसी तरह का सामाजिक दबा नहीं होता है बल्कि दोनों एक-दूसरे के प्रति स्नेह और कृतज्ञता का अनुभव करते हैं।


UPPatrika
UPPatrika Team

और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

सम्बंधित लोकप्रिय ख़बरें

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

अब तक की बड़ी खबरें

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...