Breaking News

सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- महापुरुषों के नाम पर छुट्ट‌ियां होंगी ख़त्म, बच्चों को पता नहीं होता स्कूल है क्यों बंद

0 comments, 2017-04-15, 818 views

लखनऊ: यूपी में सत्ता में आते ही योगी सरकार ने बेझिझक कई बड़े फैसले ले रही है. एक बार फिर योगी सरकार ने बहुत ही बड़ा ऐलान किया है. सीएम योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को भीमराव अम्बेडकर की जयंती श्रद्धांजलि दी. इस दौरान उन्होंने बाबा साहब अम्बेडकर को याद करते हुए कहा कि. 'बाबा साहब ने चुपचाप सबकुछ सहा और उनके कामों को भुलाया नहीं जा सकता. इसके साथ ही सीएम आदित्यनाथ ने एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा क‌ि महापुरुषों के नाम पर स्कूल बंद करने की परंपरा भी खत्म की जाएगी.
सीएम योगी आदित्यनाथ ने 
अंबेडकर महासभा के कार्यक्रम में सम्बोधन के दौरान कहा कि 'प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छ भारत का सपना साकार क‌िया जाएगा साथ ही सबको छत देने वाली प्रधानमंत्री आवास योजना पर जल्द काम शुरू होगा.' इस दौरान सीएम आदित्यनाथ ने विरोधियों को पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि,' बाबा साहब ने अपनी पीड़ा अपने अंदर रखी. बाबा साहब ने कहा था देश की कीमत पर राजनीत‌ि नहीं होनी चाह‌िए लेकिन देश में जात‌ि के नाम पर राजनीत‌ि करने वालों को बाबा साहब से प्रेरणा लेनी चाह‌िए. 
किसी के साथ भी भेदभाव और अन्याय बर्दाश्त नहीं-
सीएम योगी आदित्यनाथ ने किसी साथ भी भेदभाव या अन्याय ना होने का आश्वासन देते हुए कहा कि, ' यूपी में हमरी सरकार पूरी तरह संकल्पित सरकार है. 
छुआछूत के नाम पर किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा. पूरे प्रदेश की सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने के लिए प्रदेश सरकार कृत संकल्प‌ित हैं. उन्होंने कहा क‌ि पूरे प्रदेश की जनता की सुरक्षा की ज‌िम्मेदारी प्रदेश सरकार की है और क‌िसी के भी साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं क‌िया जाएगा.
मेरी ये बातें कुछ लोगों को लगेंगी बुरी-
इस दौरान सीएम ने एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि 
मैं एक ऐलान करने जा रहा हूं जो कुछ लोगों को बुरा भी लग सकता है. लेक‌िन महापुरुषों के नाम पर छुट्टी की परंपरा बंद होनी चाह‌िए. उन्होंने कहा क‌ि हम गांव में जाकर बच्चों से पूछते हैं क‌ि आज स्कूल क्यों नहीं गए तो बच्चे बोल देते हैं क‌ि आज इतवार है. उन्हें पता ही नहीं होता क‌ि स्कूल क्यों बंद है. इसलिए हमने यह तय किया है कि महापुरुषों की जयंती पर स्कूलों को कुछ घंटे स्कूल खोलकर विशेष कार्यक्रम करने चाह‌िए ताक‌ि बच्चों को उनके बारे में पता चल सके और वे अपने जीवन में उनकी शिक्षाओं को आत्मसात कर सकें.


UPPatrika
अभिमन्यु वर्मा

और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X