Breaking News

चाणक्य के अनुसार इस तरह के पुरूषो के साथ किया गया प्रेम या विवाह नही होता असफल

0 comments, 2017-04-30, 2692 views

आचार्य चाणक्य द्रारा कई ऐसी बातो का जिक्र किया गया था जो बताती है कि वास्तव मे किस तरह के पुरूषो के साथ किया गया प्रेम या विवाह कभी असफल नही होता है। 
1) स्त्री को सम्मान देने वाला औऱ उसकी कद्र करने वाला-
ऐसा पुरूष जो स्त्री को सम्मान की नजरो से देखता है। भले ही वह उसकी प्रेमिका, पत्नी हो या कोई पराई स्त्री। यदि वह स्त्रियो को महत्व को समझता है और सदैव उनको सम्मान दिलाने की कोशिशो मे लगा रहता है। तो ऐसे पुरुष के साथ बनाया रिश्ता कभी भी टूट नही सकता है। 
2) पराई स्त्री को स्पर्श न करने वाला-
पुरूष जो पराई स्त्रियो के स्पर्श से दूर रहता है तो उसका यह गुण सर्वोपरि होता है। चाणक्य के अनुसार जो पुरूष पत्नी या प्रेमिका के अलावा किसी अन्य स्त्री को वासना की नजरो से नही देखता है औऱ अपने सम्बन्ध को बचाने की हर सम्भव कोशिश करता है उसका रिश्ता टूटना लगभग नामुकिन होता है। 
3) सुरक्षा का एहसास-
पुरूष जिसके सानिध्य मे स्त्री सुरक्षा का एहसास रखती हो ऐसे पुरूष का रिश्ता नही टूट सकता है। ऐसे पुरूष सदैव आपको सुरक्षा का एहसास करवाएगे। वह सदैव आपको अच्छा महसूस करवाने का प्रयत्न करेगे जिससे आपका रिश्ता कभी नही टूटेगा। माना जाता है कि स्त्री अपने पति मे पिता की सूरत देखती है तो यदि आप उसे सुरक्षा का माहौल देते है तो वह कभी भी आपसे दूर नही जाएगी। 
4) शारीरिक सुख-
विवाह सम्बन्धो मे शारीरिक सुख की जरूरत रहती है। ऐसा पुरूष जो अपनी पत्नी को शारीरिक सुख प्रदान करता है उसकी पत्नी सदैव उससे प्रसन्न रहती है। फूल के समान प्रेमिका औऱ पत्नी को स्पर्श करने वाले व्यक्ति का सम्बन्ध कभी भी टूट नही सकता है।


UPPatrika
पवन कुमार
स्वत्रन्त्र पत्रकार
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

अब तक की बड़ी खबरें

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...