Breaking News

जानिए उन 7 कानूनो के बारे मे जिनकी वजह से उड़ता है पाकिस्तान का मजाक

0 comments, 2017-05-06, 2388 views

पाकिस्तान का मजाक भारत ही नही बल्कि कई अन्य जगहो पर भी उड़ाया जाता रहता है। इस प्रकार मजाक उड़ाये जाने के पीछे तात्कालिक कारणो के साथ ही पाकिस्तान के कई कानून भी जिम्मेदार है। जिसके चलते अधिकतर वह मजाक का कारण बनता जाता है। 
इजराइल नही जा सकता कोई पाकिस्तानी- 
कोई भी पाकिस्तानी इजराइल नही जा सकता है। इसके पीछे का कारण यह है कि पाकिस्तान ने इजराइल को एक देश के रूप मे मान्यता नही दी है। इसीलिए दोनो देशो के बीच मे कोई भी डिप्लोमेटिक रिलेशन नही है।
लिव इन जैसे कान्सेप्ट है गायब-
पाकिस्तान के लोगो को गर्लफैण्ड बनाने के मनाही है। वहा पर लिव इन जैसा कोई कान्सेप्ट ही नही है। इसी के साथ वहा इसके विरूद्ध 1977 मे एक कानून भी बनाया गया था।
पढाई पर देना होता है टैक्स-
पाकिस्तान के कानून के मुताबिक यदि किसी स्टूडेन्ट की पढाई पर सालाना 2 लाख से ज्यादा का खर्च आता है तो उसे 5 फीसदी टैक्स चुकाना पड़ता है।
नही उड़ा सकते पीएम या गवर्नमेंट ऑफिशियल्स का मजाक
पाकिस्तान के कानून के मुताबिक आप किसी भी गवर्नमेंट ऑफिशियल्स या पीएम का मजाक नही उड़ा सकते है। इसके लिए वहा एक साइबर क्राइम बिल भी पास किया गया है। लेकिन बावजूद इसके वहा न्यूज चैनेल्स इत्यादि पर जमकर सभी का मजाक उड़ाया जाता है। हालाकि पाकिस्तानी सेना का किसी भी प्रकार का मजाक वहा नही उड़ाया जा सकता है।
बिना परमीशन फोन छूने पर हो सकती है सजा- 
पाकिस्तान मे बिना परमीशन के किसी का फोन छूने पर आपको छह माह तक की सजा हो सकती है। वहा पर बिना इजाजत किसी का भी फोन छूना पूरी तरह से इनलीगल है। 
स्पैम मैसेज पर है दस लाख तक का जुर्माना- 
पाकिस्तान के कानून के मुताबिक अगर आप किसी को भी स्पैम मैसेज भेजते है तो आपको दस लाख रूपये तक का जुर्माना हो सकता है।
अरबी शब्दो का अनुवाद करना है इनलीगल- 
पाकिस्तानी कानून के मुताबिक कुछ शब्द जैसे की अल्लाह, रसूल, मस्जिद औऱ नबी का अंग्रेजी अनुवाद करना पूरी तरह से इनलीगल है। 


UPPatrika
पवन कुमार
स्वत्रन्त्र पत्रकार
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

अब तक की बड़ी खबरें

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...