Breaking News

मातृ प्रेम की मिली सजा, पंचायत ने पत्नि से कहा धूप मे ऱखकर रोज मारो दो थप्पड़

सम्बंधित लोकप्रिय ख़बरें

0 comments, 2017-05-31, 1370 views

राजस्थान के जैसलमेर के के पोकरण क्षेत्र के भणियाणा उपखण्ड मुख्यालय से मात्र 5 किलोमीटर दूर स्थित खींवसर गांव के एक शख्स को मां के प्रति प्रेम प्रकट करने की सजा पंचायत द्रारा दी गयी है। यहा रहने वाले धन्नाराम पुत्र तुलछाराम को पंचायत के तुगलकी फरमान के बाद चिलचिलाती धूप मे पेड़ से बंधवा दिया गया है। इसे के सात इस सात दिवसीय पंचायती फरमान मे युवक की पत्नी को उसे रोजाना दो थप्पड़ मारने होगे। 
क्या है धन्नाराम का गुनाह- 
धन्नाराम जिस सजा का निर्वाहन कर रहा है वह उसे अपनी मां के साथ रहने की मिली है। जानकारी के मुताबिक धन्नाराम की पत्नी गंगा औऱ धन्नाराम की मां के बीच विवाद चल रहा था। दरसल युवक अपनी मां का एकलौता पुत्र है औऱ वह अपनी मां को खुद से दूर न रखकर उसकी सेवा करते रहना चाहता है। जबकि पत्नी गंगा मां को साथ रखने के खिलाफ है। जिसको लेकर दोनो बीच कहा सुनी हो गयी। कहा सुनी के बाद पत्नी गंगा ने अपने पीहर से पंचो को बुला लिया। इसके बाद 
बुड़किया, देचू के पंचों और कुछ स्थानीय पंचों ने युवक को धूप मे पेड़ से बांधे रखने की सजा सुनाई। इसी के साथ पंचायत का फरमान है कि जो भी युवक के करीब जाएगा या बातचीत करेगा उसका सामाजिक बहिष्कार कर दिया जाएगा। जबकि युवक की पत्नी गंगा इस दौरान पति को रोजाना जाकर दो चाटे मारेगी। 
लेकिन इस फरमान के बावजूद युवक की मां रोजाना जाकर उसे अपने हाथो से खाना खिलाती है। इसे के साथ अपने आंचल तले ढककर उसका धूप से बचाव करने का प्रयास करती है। वही पुत्र की इस स्थिति के बाद मां मीरा देवी का कहना है कि उनका बेटा सेवा करना चाहता है लेकिन बहू इसके खिलाफ है। जिसके बाद बहू के पीहर वाले और अन्य पंचो ने मिलकर मेरे बेटे को नरकीय सजा दी है। मां का कहना है कि उनका पेड़ से जंजीरो मे बंधा बेटा धन्नाराम उसी जगह पर शौच करता है वही पर खाना खाता है। इस नरकीय जीवन को देखने के बावजूद मां अपने बेटे को मुक्ती नही दिला सकती हैै। 


UPPatrika
गौरव शुक्ल
संवाददाता
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

सम्बंधित लोकप्रिय ख़बरें

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X