Breaking News

गोरखपुर में बच्चो की मौतों का सही कारण जरूर पढ़ें , ऑक्सीजन से नही हुई मौते

0 comments, 2017-08-12, 4338 views

बच्चों की मौत पर प्रधानमंत्री चिंतित ,केंद्रीय मंत्री को भेजा लखनऊ। कल से जिस तरह मौतों पर राजनीति हो रही है उससे मानवता पर उंगली उठ रही हैं। अधिकतर मीडिया तोड़ मरोड़ कर 30 मौते ऑक्सीजन से हुई दिखा रहे है जबकि असलियत कुछ और है । यूपी पत्रिका आपको पिछले कुछ सालों में हुए मौतों का विवरण दे रहा है आप खुद पढ़े और समझे। यूपी पत्रिका का मकसद सिर्फ और सिर्फ सच्चाई को सामने लाना है न कि औरो की तरह अपने चैनल की टीआरपी बढ़ाने और देश की माहौल को बिगाड़ना। जब कि सच ये है हर साल अगस्त महीने में बच्चो की मौते तेज़ी से होती है कारण सिर्फ एक है गंदगी और उससे होने वाली इंसेफ्लाइटिस देखे पिछले कुछ सालों में अगस्त महीने में हुई मौतों का आंकड़ा अगस्त 2014 में 567 बच्चो अगस्त 2015 में 668 बच्चो अगस्त 2016 में 587 बच्चो 10 अगस्त से 11 अगस्त को पहली मौत किडनी के कारण , दूसरी 3.45 सुबह समय से पहले के कारण , तीसरी भी 4बजे , इसके बाद निमोनिया से 5 बजे , इसके बाद 10 बजे सुबह ,11 बजे , 11.55 कम वजन के कारण, इसके बाद भी हुई मौते भी अलग अलग कारण से हुई। आक्सीजन के कारण कोई भी मौत नही हुई है। योगीजी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि मीडिया अपनी भूमिका सही से निभाये । आक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी की भूमिका भी संदिग्ध दिखाई पड़ता है क्योंकि ऑक्सीजन से हुई मौत का मतलब जंघय अपराध । इंसेफ्लाइटिस से प्रदेश लड़ रहा है लेकिन सब को जागरूक होना पड़ेगा , गंदगी हटेगी तभी मौते रुकेंगी। प्रधानमंत्री ने दिल्ली से केंद्रीय मंत्री को लखनऊ भेजा जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मीडिया से रूबरू हुए।

UPPatrika
पवन कुमार
स्वत्रन्त्र पत्रकार
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X