Breaking News

फिर उठी अंधविश्वास की लपट बच्चा पैदा होते ही हुआ चार साल का , तो मौलाना बोले हर धर्म में होते है अंधविश्वासी

0 comments, 2017-08-17, 3178 views

स्योहारा ( फ़रीद अन्सारी ) अगर किसी को यह जानना है कि हमारे आधुनिक समाज में अंधविश्वास की जड़े कितनी मज़बूत है तो वह भारत में कुछ समय बिता कर देख सकता है जहां पर अंदाज़ा हो जायेगा कि जिस भारत में शिक्षा का स्तर बढ़ा है , जिस भारत में सोशल मीडिया की पकड़ मजबूत हुई है , जिस भारत के लोग कभी चाँद तक पर घूम आये हो , आज इसी भारत में अंधविश्वास की जड़ इतनी ग़हरी हो चुकी है कि हर हफ्ते महीने में कोई ना कोई बिना सिर पैर की अंधविश्वास से भरी अफ़वाह इतनी जल्दी फ़ैल जाती है जितनी जल्दी शायद भारत में बिजली भी नही आती होगी । खैर हम बात कर रहे है उत्तर प्रदेश के जिला बिजनौर की जहाँ पर चौटी कटने की अफवाह दिन पर दिन अपने चरम पर पहुँच रही है और यह अफवाह अभी थमी भी नही कि एक और अंधविश्वास से भरी ख़बर मुस्लिम औरतों ने एक दूसरे रिश्तेदार को देनी शुरू कर दी कि जिला बिजनौर के कस्बा नहटौर क्षेत्र के किसी गाँव में कोई बच्चा पैदा होने के कुछ देर बाद ही लगभग 4 साल का हो गया और उस ने हिदायत दी है कि जिस औरत के एक बेटा हो वो इतनी बार यह दुआ पढ़े और रात को इबादत करें वगैरह वगैरह । लेकिन जब इस घटना की सच्चाई जानने के लिए संवाददाता फ़रीद अन्सारी ने नहटौर क्षेत्र के सेडा मिलक निवासी मुफ़्ती वासिफ़ क़ासमी से बात की, जो कि स्योहारा की मस्जिद में पेश इमाम की ज़िम्मेदारी निभाते है तो उन्होंने बताया कि यह सिर्फ एक मुस्लिम समुदाय की ओरतो में फैली हुई अफवाह है जो सच नही है और यह सिर्फ शिर्क पैदा करने वाली बातें है कि जिस औरत को एक बेटा है वो यह काम करें वो काम करें ऐसा कुछ नही है । ईश्वर एक है और कोई धर्म नही कहता कि उसका ईश्वर किसी बन्दे को मजबूर कर के कोई काम कराएं लेकिन इतना ज़रूर है हर धर्म समुदाय को चाहिए कि अपने अपने तरीके से ईश्वर की इबादत करें और उस पर भरोसा रख कर किसी भी धर्म के लोग किसी भी अफवाह का शिकार ना बने । क्योकि इस तरह की अफ़वाह ईमान कच्चा करने के लिए फैलाई जाती है जिस का शिकार जाहिल तबके के साथ साथ इन्टरनेट को इस्तेमाल करने वाले पढ़े लिखे भी हो रहे है । सभी को चाहिए कि पहले ख़बर की तफ्तीश करें तभी कोई भी ख़बर सोशल मीडिया पर या किसी को फोन पर दें । सुनी सुनाई किसी भी अफ़वाह पर यकीन ना करें ।

UPPatrika
फ़रीद अन्सारी
संवाददाता
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...

X