Breaking News

लेख : जन्मदिन विशेष: बिन ब्याही मां की कोख से जन्मी इस खूबसूरत एक्ट्रेस का विवादों से रहा है गहरा नाता

सम्बंधित लोकप्रिय लेख

2018-10-10, 0 comments, 235846 views

जन्मदिन विशेष: बिन ब्याही मां की कोख से जन्मी इस खूबसूरत एक्ट्रेस का विवादों से रहा है गहरा नाता

अच्युत द्विवेदी

बॉलीवुड की खूबसूरत अदाकारा  रेखा का जादू आज भी सिने प्रेमियों के बीच उतना ही कायम है जितना कि पहले था. अपनी खूबसूरती से फैंस का दिल चुराने वाली रेखा  आज अपना 64वां जन्मदिन मना रही हैं.  रेखा का असली नाम भानु रेखा गणेशन है. उनका जन्म जन्म 10 अक्टूबर 1954 को चेन्नई में तमिल अभिनेता जेमिनी गनेशन और तेलगु अभिनेत्री पुष्पावली के यहां हुआ था. वे तेलगु को अपनी मातृभाषा मानती हैं. वे हिन्दी, तमिल और इंग्लिश भी अच्छे से बोल लेती हैं.

पिता से थी नफरत

रेखा के पिता ने चार शादियां की थीं, लेकिन रेखा की मां से कभी शादी नहीं की और इस वजह से रेखा को अपने पिता से नफरत थी.  रेखा अपने पिता से इतनी नफरत करती थीं कि उनके अंतिम संस्कार में भी नहीं गईं थीं.

अभिनय के लिए छोड़ी पढ़ाई

रेखा ने अभिनय क्षेत्र में करियर बनाने के लिए पढ़ाई छोड़ दी.  इस दौर के बारे में रेखा कहती हैं, "मैं कभी भी एक्‍ट्रेस नहीं बनना चाहती थी, लेकिन घर के हालात ने मुझे वहां तक पहुंचा दिया. आर्थिक परेशानी की वजह से रेखा तेलुगु की B और C ग्रेड फिल्मों में काम करने के लिए मजबूर हुईं. रेखा ने अपने करियर की शुरूआत 1966 में बाल कलाकार के तौर पर तेलगु फिल्म रंगुला रतलाम से की थी. 


मुख्य अभिनेत्री के तौर पर रेखा का डेब्यू चार साल बाद फिल्म सावन भादों से हुआ था. उन्होंने 'रामपुर का लक्ष्मण', 'कहानी किस्मत की' और 'प्राण जाये पर वचन न जाये' जैसी फिल्‍मों में काम किया. इन फिल्मों को भी अच्छा रिस्पांस मिला. अमिताभ बच्चन के साथ उनकी पहली फिल्म 'दो अंजाने'  थी जिसे दर्शकों द्वारा खूब सराहा गया. फिल्‍म 'घर' उनके करियर के लिए टर्निंग प्वाइंट साबित हुई. इसके बाद तो जैसे उनके पास फिल्मों की झड़ी लग गई.

रेखा की जिंदगी में एक समय ऐसा भी था जब उन्हें उनके सांवले रंग के लिए ताने सुनाए जाते थे. आज ऐसा समय है जब वो 64 की उम्र में भी जवां लगती हैं. अगर एक बार रेखा किसी इवेंट में पहुंच जाएं तो सारे कैमरे उनकी तरफ मुड़ जाते हैं। करीना-कटरीना जैसी हीरोइनों का चार्म रेखा के आगे फीका पड़ जाता है. 
अपनी खूबसूरती और अदाकारी की वजह से रेखा आज उस मुकाम पर हैं जहां पहुंचने के सपने देखे जाते हैं, लेकिन यह शोहरत रेखा को भी खैरात में नहीं मिली. उन्‍होंने बुलंदियों को छूने के लिए जो संघर्ष किया वो मिसाल है. 

रेखा ने अपने 40 सालों के लंबे करियर में लगभग 180 से ज्‍यादा फिल्मों में काम किया है. अपने करियर के दौरान उन्होंने कई दमदार रोल किए और कई मजबूत फीमेल किरदार को पर्दे पर बेहतरीन तरीके से पेश किया और मुख्यधारा के सिनेमा के अलावा उन्होंने कई आर्ट फिल्मों मे भी काम किया. 

अमिताभ बच्चन के साथ अफेयर

अमिताभ के साथ आई उनकी ज्यादातर फिल्में हिट रहीं और उनका अमिताभ के साथ अफेयर मीडिया में काफी चर्चा का विषय भी बना रहा क्योंकि अमिताभ पहले से शादीशुदा थे. इन्‍हीं खबरों के बीच आई यश चोपड़ा की फिल्म सिलसिला में वे अमिताभ और जया बच्‍चन के साथ नजर आईं.  रेखा और अमिताभ ने एक साथ कई हिट फिल्में दी है जिनमें 'गंगा की सौगंध', 'खून-पसीना', 'नटवरलाल', 'सुहाग', 'मुकद्दर का सिंकदर' और 'सिलसिला' शामिल हैं. यश चोपड़ा निर्देशित 'सिलसिला' दोनों की आखिरी फिल्म थी जिसमें दोनों ने साथ काम किया था.

साल 1990 में रेखा ने दिल्ली के कारोबारी मुकेश अग्रवाल से शादी कर ली पर एक साल बाद ही मुकेश ने आत्‍महत्‍या कर ली. अफवाह यह भी थी कि उन्होंने विनोद मेहरा से भी शादी की.  रेखा की जिंदगी में कई शख्‍स आए, यहां तक कि साथ काम करने वाले बेहद कम उम्र के लोगों के साथ उनके अफेयर के किस्से तक गढ़े गए पर कभी उनका कोई "प्‍यार" रिश्‍ते में बदलता नहीं दिखा.

रेखा आज भले ही बड़े पर्दे से दूर हों, लेकिन उनका लाइफस्टाइल आज भी राजसी ही है। वो इवेंट्स में भारी भरकम साड़ियों और कीमती ज्वैलरी पहने नजर आती हैं. इंटरनेट पर मौजूद आंकड़ों के हिसाब से, रेखा की संपत्ति 40 मिलियन डॉलर की है। उनके पास बांद्रा में स्थि‍त आलीशान बंगले के अलावा बीमडब्लू से लेकर एक्सयूवी जैसी लक्जरी गाड़ियां हैं. रेखा हमेशा से ही विवादों से घिरी रहीं, पर इन सबसे बेपरवाह वो आज भी कांजीवरम साड़ी और सिंदूर लगाए हमेशा मुस्कुराती नजर आती हैं.रेखा को 2010 में पद्मश्री सम्‍मान मिला, बाद में वे राज्‍य सभा की सदस्‍य भी बनीं

..जब सेट पर हुई थी बेहोश

फिल्म ‘दो शिकारी‘ के सेट पर रेखा बेहोश हो गईं थी.  दरअसल, उन्हें अभिनेता विश्वजीत के साथ एक किसिंग सीन फिल्माना था. मगर रेखा इस सीन के लिए तैयार नहीं थी लेकिन फिल्म की जरूरत की वजह से उन्हें यह सीन करना पडा. कहा जाता है कि शॉट के बाद रेखा बेहोश हो गई थी.  इस फिल्म के बाद रेखा का नाम विश्वजीत के साथ जोड़ा गया और कहा जाने लगा कि दोनों एक दूसरे के साथ काफी वक्त बिताते हैं. हालांकि हिंदी सिनेमा में रेखा का उदय हो रहा था और ऐसे में वो अपना ध्‍यान इसी पर केंद्रित करना चाहती थीं कि ऐसे में उन्होंने अपना रास्ता बदल लिया.

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

अब तक की बड़ी खबरें