Breaking News

ऑक्सीजन का संकट गहरा रहा, अपूर्ती न होने से जा रही जानें

0 comments, 2021-04-24, 43968 views

होम आइसोलेट और निजी अस्पतालों में उपचार करा रहे मरीजों के सामने ऑक्सीजन का संकट गहराता जा रहा है। तीमारदार एक अदद ऑक्सीजन सिलेंडर पाने के लिए अधिकारियों से लेकर प्लांट के चक्कर काट रहे हैं लेकिन इन्हें ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं मिल पा रहा है। जिन दो औषधि निरीक्षकों के नंबर जारी किए गए हैं ये निरीक्षक लोगों का फोन तक नहीं उठा रहे हैं। प्रशासन भले ही पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन होने का दावा कर रहा हो लेकिन हकीकत इससे कोसों दूर हैं जिले में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या 32 सौ के आसपास है।

अयोध्या हाईवे के निकट संचालित जय सांई ऑक्सीजन प्लांट चार दिनों से बंद पड़ा है। प्लांट मैनेजर राकेश बताते हैं कि चार दिन पहले गैस खत्म हो गई थी तब से आज तक ऑक्सीजन टैंकर नहीं आया। जिसकी वजह से प्लांट बंद है। कोविड अस्पताल में भर्ती कराने के लिए बात की करें तो  जवाब में ऑक्सीजन उपलब्ध कराने पर ही मरीज को भर्ती करने की बात कही। लोग ऑक्सीजन पाने के लिए दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं। आरोप है कि ऑक्सीजन न मिलने की वजह से अब तक कइयों की जान जा चुकी है। इसके बाद भी व्यवस्था में कोई सुधार होता दिख नहीं रहा है। जिलाधिकारी डॉ. आदर्श सिंह ने शुक्रवार को सफेदाबाद स्थित सारंग गैस ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि केवल कोविड अस्पतालों को ही ऑक्सीजन गैस की आपूर्ति की जाए। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।


UPPatrika
प्रियंका आर्या
यूपी पत्रिका डेस्क
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

पोल   करें

AJAX Poll Using jQuery and PHP

X

Loading...