18 नवम्बर को गोण्डा के 19706 परीक्षार्थी कड़े सुरक्षा प्रबन्धों व निगरानी के बीच देंगें टीईटी परीक्षा

0 comments, 2018-11-15, 151528 views

  गोण्डा के19706 परीक्षार्थी कड़े सुरक्षा प्रबन्धों व निगरानी के बीच टीईटी परीक्षा सम्पन्न होगी 
डीएम व एसपी ने मीटिंग कर बनाई रणनीति, 8 सेक्टर व 31स्टेटिक मजिस्ट्रेटों की हुई तैनाती
18नम्बर को होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा टीईटी को पूरी सूचिता व पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराने के लिए प्रशासन द्वारा व्यापक रणनीति तैयार कर ली गई है। डीएम कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव व एसपी लल्लन सिंह ने अधिकारियों के साथ जिला पंचायत सभागार में बैठक कर परीक्षा को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए जरूरी निर्देश दिए।
 इस बार 18 नवम्बर को होने वाली टीईटी परीक्षा में जनपद गोण्डा के 19706 परीक्षार्थी परीक्षा देगें जिनमें 13406 प्राइमरी के लिए तथा 6300 परीक्षार्थी उच्च प्राथमिक विद्यालयों के लिए परीक्षा में शामिल होगे। परीक्षा के प्राइमरी के नगर क्षेत्र में परीक्षा केन्द्र बनाएं गए हैं जिनमें से 21 केन्द्रों पर प्राइमरी की परीक्षा प्रथम पाली में तथा उच्च प्राथमिक के लिए 10 केन्द्र सहित कुल 31 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। प्रथम पाली की परीक्षा सुबह 10 बजे से दोपहर साढ़े बारह बजे तक तथा द्वितीय पाली की परीक्षा ढाई बजे से सांय पांच बजे तक होगी। डीएम कैप्टेन प्रभान्शु श्रीवास्तव ने परीक्षा को पूरी सुचिता व पारदर्शिता के साथ सम्पन्न कराने के लिए 31 स्टेटिक मजिस्ट्रों व शिक्षा विभाग के 31 पर्यवेक्षकों की तैनाती की है। केन्द्रों के प्रबन्धकों/ व्यवस्थापकों व अधिकारियों के साथ बैठक में जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिए कि टीईटी परीक्षा पूरी सुचिता के साथ सम्पन्न कराई जानी है। कहीं भी किसी भी स्तर पर शासन व परीक्षा नियामक प्राधिकरण के निर्देशों के विपरीत कोई भी कार्य अथवा आचरण कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा इसलिए सभी अधिकारी और केन्द्र व्यवस्थापक शासन के निर्देशों के अनुरूप परीक्षा सम्पन्न कराएगें। पुलिस अधीक्षक लल्लन सिंह ने सुरक्षा प्रबन्धों की जानकारी देते हुए बताया कि सभी परीक्षा केन्द्रों पर एक एसआई तथा सात पुलिसकर्मी जिनमें तीन महिला आरक्षी तथा चार पुरूष आरक्षी तैनात रहेगेे। इसके अलावा प्रत्येक चार परीक्षा केन्द्र के सापेक्ष एक सेक्टर मजिस्ट्रेट व एक एसओ सचल दल के रूप में लगातार भ्रमणशील रहेगें और परीक्षा पर नजर रखेगें। प्रत्येक स्टेटिक मजिस्ट्रेट के साथ दो पुलिस आरक्षी भी अतिरिक्त तैनात रहेगें। डीएम व एसपी ने स्पष्ट किया कि कहीं भी किसी भी स्तर पर लापरवाही या संलिप्तता स्वीकार नहीं होगी।
बैठक में सीडीओ अशोक कुमार, एडीएम रत्नाकर मिश्र, सिटी मजिस्ट्रेट सुभाषचन्द्र प्रजापति, एडी बेसिक मृदुला आनन्द, जिला विद्यालय निरीक्षक अनूप श्रीवास्तव सहित सभी सेक्टर व स्टेटिक मजिस्ट्रेट तथा परीक्षा केन्द्रों के केन्द्र व्यवस्थापक व अन्य उपस्थित रहे।

UPPatrika
G K Srivastav
संवाददाता
और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

अब तक की बड़ी खबरें