इन अजीबोगरीब फतवों के बारे में जानकर हैरान हो जाएंगे आप

सम्बंधित लोकप्रिय ख़बरें

0 comments, 2018-09-20, 150306 views

देश और दुनिया में मुस्लिम संगठनों एवं धर्मगुरुओं द्वारा तमाम तरह के फतवे जारी किए जाते हैं. कुछ फतवें ऐसे होते हैं जिनकी कल्पना भी आम आदमी नही कर सकता है. कुछ तो अजीबो गरीब किस्म के होते हैं जिसे जानकर आप को हैरानी तो होगी ही साथ ही हंसी भी आएगी. ये फतवे कई बार मजाक का पात्र भी बनती हैं.. आइए नजर डालते हैं कुछ ऐसे ही अजीबोगरीब फतवे के बारे में

1- सउदी अरब के एक शेख ने शतरंज के खिलाफ ही फतवा जारी कर दिया. फतवे के मुताबिक शतरंज खेलना इस्लाम धर्म के खिलाफ है.
2- 
मिस्त्र की अज अजहर  यूनिवर्सिटी के एक प्रोफेसर ने साल 2006 में अजीब तरह का फतवा जारी कर दिया. फतवे के मुताबिक यदि शारीरिक संबंध बनाते वक्त सारे कपड़े उतार दिए तो शादी अमान्य मानी जाएगी. इस पर खूब बहस हुई और इसका जमकर मजाक भी उड़ाया गया.
3-  आपको जानकर आश्चर्य होगा कि सऊदी अरब के मुफ्ती अब्दुल अजीज बिन अब्दुल्ला अल-शेख ने साल 2016 में मुस्लिम अभिभावकों को आगाह करते हुए पोकेमॉन के खिलाफ फतवा जारी कर दिया.  फतवे में कहा गया कि धर्म की रक्षा के लिए जरूरी है कि अभिभावक अपने बच्चों को पोकेमॉन टीवी कार्यक्रम, गेम और कार्ड से दूर रखें

4- आतंकी संगठन आईएसआईएस ने साल 2014 में महिलाओं के खिलाफ फतवा जारी किया. फतवे के मुताबिक महिलाओं को कुर्सी पर नहीं बैठना चाहिए, इससे उन्हें यौन उत्तेजना हो सकती है.

5- साल 2011 में यूरोप के एक मुस्लिम धर्म गुरु ने फतवा जारी करते हुए कहा कि महिलाओं को यौन दुर्विचारों से दूर रहने के लिए खीरे और केले से दूर रहना चाहिए. अपने फतवे की वजह से वह पूरी दुनिया में मजाक का कारण बन गए. 
6- सउदी के एक मुस्लिम धर्म गुरु ने साल 2005 में महिलाओं के फुटबॉल देखने पर एतराज जताते हुए फतवा जारी कर दिया. फतवे के मुताबिक महिलाएं सिर्फ पुरुषों की जांघों पर ध्यान देती हैं, उन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि कौन मैच जीत रहा है और कौन मैच हार रहा है


UPPatrika
UPPatrika Team

और न्यूज़ पढ़ें

0 Comments

Leave a comment

Your email address will not be published, all the fields are required.


Comments will be shown after approval .

अब तक की बड़ी खबरें